आप यहाँ हैं : मुख्य पृष्ठ > व्यापार एवं निवेश

व्यापार एवं निवेश

सम्मेलनों/ संगोष्ठियों/ कार्यशालाओं/विचारगोष्ठियों हेतु जीआईए समर्थन के लिए योजना

व्यापार एवं निवेशइस तथ्य को स्वीकार करते हुए कि सूचना प्रधान और ज्ञान आधारित तकनीकी क्षेत्र के रूप में इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी (आईसीटी), आईसीटी और संबंधित क्षेत्रों में अनुसंधान एवं विकास के प्रयास में अन्त:क्रिया की प्रोन्नति इस दिशा में देश भर में भौगोलिक रूप से फैला उद्योग और अनुसंधान प्रयोगशालाएं, अकादमिक संस्थानों द्वारा किए जा रहे विभिन्न प्रयासों के लिए महत्वपूर्ण कड़ी बन गई है। इसके अनुसरण में, डीआईटी, आईसीटी और संबंधित क्षेत्रों में सम्मेलन/कार्यशाला/संगोष्ठी/ विचारगोष्ठी की व्यवस्था करने के साथ-साथ आर्थिक-सामाजिक और व्यावसायिक क्षेत्रों में उनके अनुप्रयोग के लिए अकादमिक (शैक्षिक) एवं अनुसंधान व विकास संगठनों को सहायता अनुदान के रूप में वित्तीय सहायता मुहैया कराता है। इससे विभिन्न तकनीकी पहलुओं पर चर्चा करने और अपने अनुभव साझा करने के लिए विशेषज्ञ एक आम मंच पर आ जाते हैं जिसके परिणामत: वृद्धि, प्रतिस्पर्धात्मकता, उत्पादकता, गुणवत्ता और अनुसंधान एवं अनुप्रयोग की ओर इलेक्ट्रॉनिक्स आईसीटी क्षेत्र में विकास एवं सुधार होता है।

सम्मेलन/ संगोष्ठियों/ कार्यशालाओं/ विचारगोष्ठियों हेतु जीआईए समर्थन हेतु दिशा-निर्देश, निबंधन एवं प्रमुख शर्तें, दबाव क्षेत्र एवं प्रफोर्मा

 

इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा स्वामित्व सामग्री

http://india.gov.in, The National Portal of India : External website that opens in a new window

Page last updated on March 7, 2017

  • Site Counter: 174,443